US इंटेलिजेंस ने कहा – लद्दाख में भारतीय सेना ने अनुभवहीन चीनी सेना को अच्छा मजा चखाया, चीन के ज्यादा सैनिक मारे गए है

ट्रेडिंग

चीन ने भारत को 1962 वाला भारत समझकर भारतीय सैनिको पर हमला किया, पर उसका जो जवाब भारतीय सेना ने दिया उसकी उम्मीद चीन को भी नहीं थी चीन के 40-50 सैनिक मारे गए है, और चीन के अन्दर से तो अब 63 तक का आंकड़ा सामने आ रहा है, चीन में लाशों के ढेर लग चुके है और चीन की स्तिथि ये हो चुकी है की किरकिरी न होने के डर से वो आंकड़े तक नहीं बता पा रहा Harry Chen PhD@PhdParody

*update*
My source said 63 confirmed dead by the end of the day, many deaths occurred later due to exposure and complications. https://twitter.com/PhdParody/status/1272935740897402882 …Harry Chen PhD@PhdParodyInside source confirms 8 dead, one officer and 45 wounded severely (*updated from 5 dead Chinese soldiers, one is an officer and 11 wounded) in the latest clash with Indian troops. #China news outlets are afraid to report heavier casualties than india.#Ladakh #chinaindiaborder1,930Twitter Ads info and privacy1,247 people are talking about thisवहीँ अमेरिकी इंटेलिजेंस ने भी अपनी रिपोर्ट सामने रखी है और कहा है की 15 जून को लद्दाख बॉर्डर पर चीन और भारतीय सेना के बीच भिडंत हुई है और इस भिडंत में चीन को ही ज्यादा नुक्सान उठाना पड़ा है 
अमेरिकी इंटेलिजेंस ने कहा है की – चीन के 35 से ज्यादा कन्फर्म सैनिक मारे गए है और ये आंकड़ा अभी बढ़ भी सकता है 
अमेरिकी इंटेलिजेंस ने ये भी कहा की – चीन की सेना पहाड़ों की लड़ाई में अनुभव हीन है, चीनी सेना के पास लम्बे समय से युद्ध लड़ने का भी कोई अनुभव नहीं है और लद्दाख में भारतीय सेना ने चीन की अनुभवहीन सेना को अच्छा मजा चखाया है
अमेरिकी इंटेलिजेंस ने माना है की भारत के सैनिको की पोजीशन लद्दाख में ज्यादा बेहतर है, भारतीय पोस्ट्स भी अच्छे स्थानों पर है और यहाँ चीन को मार खानी ही पड़ेगी यहाँ भारतीय सेना दुनिया में सबसे बेहतर और मजबूत है