हर तरफ हिन्दू धर्म के ही सबूत, वियतनाम में खुदाई के दौरान मिला हजारों साल पुराना शिवलिंग

ट्रेडिंग

पूरा विश्व सिर्फ सत्य सनातन हिन्दू धर्म का ही अनुवाई था, पर जैसे जैसे समय बीता मानव ने अपने कई तरह के धर्म और मजहब बना लिए उदाहरण के तौर पर इस्लाम जो पहले नहीं था और सिर्फ सातवी सदी में ही बना, ईसाइयत का वजूद भी ज्यादा पुराना नहीं, ये सिर्फ 2 हज़ार साल पुराना मजहब है, मानव निर्मित मजहब कई सारे बनाये गए और आज उनका बहुत से लोग पालन कर रहे है पर सनातन धर्म हजारों हज़ार वर्ष पुराना है और इसके सबूत आये दिन मिलते ही रहते है और न सिर्फ भारत में बल्कि दुनिया के कोने कोने में सनातन धर्म के ही सबूत मिलते है 

श्री राम और हनुमान की आकृति, इराक





चाहे वो ईराक हो जहाँ 7 हज़ार साल पुरानी श्री राम और हनुमान की कलाकृति मिली, चाहे कम्बोडिया, चाहे अरब हो जहाँ गणेश जी की 20 हज़ार साल पुरानी प्रतिमा मिली थी, या चाहे वियतनाम ही हो वियतनाम में अब हजारों साल पुराना शिवलिंग मिला है, ये शिवलिंग एक स्थान पर खुदाई के दौरान मिला, लोग अपने किसी कार्य से खुदाई कर रहे थे इसी बीच उन्हें गोलाकार कोई चीज धरती में मिली, जिसके बाद इसे सावधानी से खोदा गया तो नीचे शिवलिंग मिला Prashant Patel Umrao@ippatel

वियतनाम में खुदाई के दौरान 9वीं शताब्दी के अखंड बलुआ पत्थर ( Monolithic Sandstone) के बने शिवलिंग मिले।

हर हर महादेव ?

सम्पूर्ण विश्व में कहीं भी खुदाई हो, सनातन धर्म के देवी देवताओं की ही मूर्तियां निकलती हैं।

View image on Twitter

23.3KTwitter Ads info and privacy8,271 people are talking about thisशुरुवाती जांच में इस शिवलिंग 9वी सदी का बताया जा रहा है, इसे वियतनाम में 9वी सदी में बनाया गया था, यानि वियतनाम में भी हिन्दू धर्म ही था, ये शिवलिंग 1 हज़ार साल से ज्यादा पुराना है इस से पहले इंडोनेशिया में भी इसी प्रकार का 2 हज़ार साल पुराना शिवलिंग मिला था, दुनिया में कहीं भी खुदाई हो, सबूत सनातन धर्म के ही दिखाई दे जाते है जो चींख चींख कर गवाही देते है की हम सभी के पूर्वज हिन्दू ही थे, कुछ लोग आज भी अपने पूर्वजों के धर्म में ही है जिन्हें हिन्दू कहा जाता है, पर बहुत से लोग अब मानव निर्मित अलग अलग मजहबो को में शामिल हो गए, पर मूल रूप से सबके पूर्वज हिन्दू ही है