जानी मानी बॉलीवुड सिंगर ने उ’द्धव के इस दिग्ग’ज मंत्री के खिलाफ द’र्ज कराया रे’प केस, कहा- अ’श्ली’ल वीडियो बना कर……

ट्रेडिंग

रेनू शर्मा ने मुंबई पुलिस आयु’क्त को भेजे पत्र में धनं’जय मुंडे पर लगाए रे’प के आरो’प। गायिका रेनू शर्मा ने महा’राष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार में मंत्री धनं’जय मुंडे के खिलाफ रे’प की शिका’यत की है। उन्होंने मुंबई के पुलिस कमि’श्नर परमबीर सिंह को पत्र लिख कर शिका’यत दर्ज कराई। उन्होंने कहा कि अब तक इस मामले में कोई कार्र’वाई नहीं की गई है। उन्होंने आरोप लगाया कि ओशि’वारा पुलिस थाना उनकी शिका’यत नहीं दर्ज कर रहा है। गायि’का ने अपनी जान ख’तरे में होने की बात भी बताई।

रेनू शर्मा ने शिका’यत की कॉपी सोशल मीडि’या पर ट्वी’ट कर के लोगों को इस सम्ब’न्ध में जान’कारी दी। मुंबई के पुलिस आयु’क्त परम’बीर सिंह को लिखे पत्र में उन्होंने धनं’जय मुंडे पर बला’त्कार, यौन शो’षण और उत्पी’ड़न के आरोपों के साथ-साथ जान’माल की सुरक्षा की भी गुहार लगाई है। उन्होंने खुद को अवि’वाहित और देश के कानून का पालन करने वाली नागरिक बताते हुए लिखा कि धंन’जय मुंडे ने शादी का झाँसा देकर उनके साथ बला’त्कार, अप्राकृ’तिक से’क्स, धोखा’धड़ी और यौन उ’त्पी’ड़न किया।

गायिका ने बताया कि वो और धनं’जय मुंडे एक-दूसरे को 1997 से ही जानते हैं, जब वो नाबा’लिग थीं। उन्होंने बताया कि तब उनकी उम्र मात्र 16-17 वर्ष ही थी। गायि’का रेनू शर्मा ने दावा किया है कि उनकी बहन करुणा का धनं’जय मुंडे के साथ प्रेम विवाह हुआ था और बहन के घर पर ही मध्य प्रदे’श में उनकी पहली मुला’कात मुंडे से हुई थी। उन्होंने आ’रोप लगाया कि 2006 में उनकी बहन डिली’वरी के लिए इंदौर गई थी, तब धनं’जय मुंडे उनके घर पर आ धमके। शिका’यत में लिखा है:

रेनू शर्मा ने आ’रोप लगाया है कि धनं’जय मुंडे ने इसी प्रकार लालच देकर कई बार ‘इच्छा विरु’द्ध शारी’रिक सम्ब’न्ध’ बनाए और यौन उत्पी’ड़न किया। उन्होंने आरोप लगाया है कि जब उनकी बहन करु’णा कार्य से घर से बाहर जाया करती थी, तो मुंडे उनके साथ ‘जबरन शारी’रिक सम्ब’न्ध प्रस्था’पित’ करता था। पीड़ि’ता के अनुसार, करुणा और मुंडे की शादी 1998 में हुई थी। बता दें कि 46 वर्षीय मुंडे उ’द्धव सर’कार में समा’जिक न्याय एवं स्पे’शल असि’स्टेंस मिनिस्टर हैं।

धंन’जय, भाजपा के दि’ग्गज दिवं’गत नेता गोपी’नाथ मुंडे के भतीजे हैं और उन्होंने हालिया विधा’नसभा चुनाव में अपनी कजन पंक’जा मुंडे को हराया था। शरद पवार की पार्टी NCP के नेता धनंजय मुंडे को पार्टी ने 2014 में वि’धान परि’षद में नेता प्रति’पक्ष बनाया था। उस समय देवेंद्र फडण’वीस राज्य के सीएम थे। हालाँ’कि, इससे पहले वो भाजपा में भी रहे हैं और नितिन गड’करी ने राष्ट्री’य अध्यक्ष रहते उन्हें BJYM महा’राष्ट्र का अध्यक्ष बनाया था।

अक्टू’बर 2019 में तब उनका नाम विवा’दों में आया था, जब भाजपा नेता और महा’राष्ट्र की त’त्का’लीन महिला एवं बाल विकास मंत्री और उनकी चचेरी बहन पंकजा मुंडे के खिलाफ आ’पत्ति’जन’क टिप्प’णी को लेकर उनके खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था। उनके खिला’फ आई’पीसी की धारा 500 (मानहानि), 509 (महिला की गरिमा को ठेस पहुँ’चाने के लिए शब्द, हाव’भाव का इस्ते’माल) और 294 (सार्व’जनिक स्थल पर अश्ली’ल कृ’त्य) के तहत माम’ला दर्ज किया गया था।