प्रशांत भूषण ने फिर नाक रगड़कर मांगी माफ़ी, तिहाड़ जाने के डर से गिड़गिड़ाकर लिखित माफ़ी

ट्रेडिंग

कहते है लातों ने भूत बातों से नहीं मानते, उसी तरह दिन भर झूठ फ़ैलाने वाले तत्व भी तबतक नहीं मानते जबतक उनके जेल जाने की नौबत नहीं आती अभी हाल ही में कुख्यात वकील प्रशांत भूषण को सुप्रीम कोर्ट ने झूठ फैलाने के मामले में दोषी घोषित किया था और इसपर 1 रुपए का जुर्माना लगाया था पर प्रशांत भूषण इसके बाबजूद सुधरा नहीं और इसने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य जज बोबडे को लेकर एक बार फिर जनता को भ्रमित करने के मकसद से झूठ फैलाया, जनता भोली है और उसे कानून और नियमो की पूरी जानकारी नहीं है, और इसी का फायदा उठाकर प्रशांत भूषण ने सुप्रीम कोर्ट के मुख्य जज बोबडे को लेकर झूठ फैलाया भूषण ने झूठ फैलते हुए लिखा की – मध्य प्रदेश की बीजेपी सरकार ने बोबडे को हेलीकाप्टर उपलब्ध करवाया, इसके जरिये बीजेपी को अब फायदा मिलेगा, विधायकों के अमान्य घोषित होने का केस बोबडे के पास है और अब बीजेपी की सरकार बोबडे को हेलीकाप्टर उपलब्ध करवा रही है भूषण ने ये भ्रम लोगो को भ्रमित करने के मकसद से फैलाया ताकि लोग ये मान ले की बोबडे बीजेपी के ही पक्ष में फैसले देंगे, क्यूंकि बीजेपी की सरकार  बोबडे को सुविधाएं उपलब्ध करवा रही है (एक तरह से घूंस दे रही है)

भूषण को इसके बाद अहसास हुआ की इस भ्रम के लिए उसपर फिर अवमानना का केस चल सकता है और एक बार फिर उसे या तो जुर्माने या तिहाड़ की सजा हो सकती है तो अब भूषण ने लिखित में नाक रगड़कर खुद ही माफ़ी मांग ली, देखिये 

https://twitter.com/pbhushan1/status/1318905914598961153/photo/1?ref_src=twsrc%5Etfw%7Ctwcamp%5Etweetembed%7Ctwterm%5E1323941290535350272%7Ctwgr%5Eshare_3&ref_url=https%3A%2F%2Fwww.dailynv.com%2F2020%2F11%2Fblog-post_7.html

प्रशांत भूषण जैसे लोग जनता के मन में सुप्रीम कोर्ट जैसी संस्था के लिए अविश्वास पैदा करना चाहते है ताकि लोग कोर्ट पर भरोसा ही न करे और भारत में अराजकता का माहौल बन जाये पर जैसे ही भूषण को लगता है की अब तिहाड़ की बारी आ गयी तो वो नाक रगड़कर माफ़ी मांग लेता है और इसके फिर बाद झूठ का कारोबार जारी रखता है