“सारे मुसलमान फ़्रांस का बायकाट करो”, मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने जारी किया फतवा

ट्रेडिंग

जहाँ भारत की सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ फ़्रांस का समर्थन कर दिया है, दूसरी तरफ भारत के मुसलमान अब फ़्रांस के खिलाफ फतवा जारी कर रहे है फ़्रांस भारत के सबसे घनिष्ट मित्रों में शामिल है, जिसने हर युद्ध में भारत का साथ दिया है, संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद् में हमेशा भारत के स्थाई सदस्यता का समर्थन किया है, भारत को हथियार उपलब्ध करवाए है चाहे वो मिराज जेट्स हो या राफेल फ़्रांस में लगातार आतंकवादी हमले हो रहे है, पहले 47 साल के एक शिक्षक का सर काट दिया फिर कल चर्च में एक महिला समेत एक कमजोर व्यक्ति का सर काट दिया और 1 को चाकुओं से गोदकर मार डालाये तमाम हमले मजहबी उन्मादी कर रहे है, हमला करते हुए ये उन्मादी अल्लाह हु अकबर के नारे भी लगाते है, भारत ने आतंकवाद को झेल रहे फ़्रांस के समर्थन का ऐलान किया है पर भारत के मुसलमान फ़्रांस के खिलाफ फतवे निकाल रहे है 

कल ही भोपाल में मुसलमानों ने फ़्रांस के खिलाफ एक रैली का आयोजन किया, इसके अलावा मुंबई के भिन्डी बाजार जहाँ आतंकवादी दावूद इब्राहीम रहता था वहां फ़्रांस के राष्ट्रपति की तस्वीरें जूते के नीचे लगाई गयी और अब आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने तो बाकायदा फ़्रांस के खिलाफ फतवा जारी कर दिया है और भारत के मुसलमानों से कहा है की वो फ़्रांस के हर प्रोडक्ट का बायकाट करे 

फ़्रांस भारत का मित्र देश है, अभी हाल ही में जब चीन के साथ भारत की टेंशन बढ़ी थी तब फ़्रांस ने भारत की बात मानकर 5 राफेल की डिलीवरी भी समय से जल्दी दे दी थी, ताकि भारत की सेना की ताकत बढ़ सके और चीन पर दबाव बन सके, भारत के मित्र फ़्रांस के खिलाफ मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड जहर उगल रहा है दूसरी तरफ यही मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड चीन पर एकदम मौन है जिसने इस्लाम को  मानसिक बीमारी घोषित कर 30 लाख मुसलमानों को कैम्पों में बंद कर रखा है