केरल – कांग्रेस ने किया जमात-ए-इस्लामी के साथ गठबंधन, खूंखार इस्लामी उन्मादी संगठन के साथ मिलकर लड़ेगी चुनाव

ट्रेडिंग

मीडिया इस जानकारी को छिपाना चाहती है क्यूंकि कथित जनयूधारी राहुल गाँधी की पार्टी ने केरल में कट्टर इस्लामिक उन्मादी संगठन के साथ गठबंधन कर लिया है केरल में मुस्लिम जनसँख्या 30% के आसपास है और अब कांग्रेस ने केरल में अगले विधानसभा चुनाव को लेकर जमात-ए-इस्लामी के साथ गठबंधन कर लिया है इस से पहले कांग्रेस ने केरल में मुस्लिम लीग के साथ भी गठबंधन कर रखा था, मुस्लिम लीग के बाद अब कांग्रेस जमात-ए-इस्लामी जैसे खूंखार इस्लामी संगठन की भी साथी हो गयी केरल में जमात-ए-इस्लामी ने केरल और फिर भारत को इस्लामी मुल्क बनाने के मकसद से एक पार्टी बनाई है, इस पार्टी को शोर्ट में WPI कहते है, इसके फुल नाम है ‘वेलफेयर पार्टी ऑफ़ इंडिया”

इस पार्टी का उद्देश्य है पहले केरल और फिर पुरे भारत में शरिया लागू करवाना और भारत को इस्लामी मुल्क बनाना जैसे पाकिस्तान, अफगानिस्तान इत्यादि है 
https://platform.twitter.com/embed/index.html?dnt=false&embedId=twitter-widget-0&frame=false&hideCard=false&hideThread=false&id=1319875087806283777&lang=en&origin=https%3A%2F%2Fwww.dailynv.com%2F2020%2F10%2Fblog-post_11.html&theme=light&widgetsVersion=ed20a2b%3A1601588405575&width=550pxकेरल में अगला विधानसभा चुनाव साल 2021 में है और कांग्रेस ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है और एक के बाद एक मुस्लिम संगठनो के साथ पार्टी हाथ मिलाती जा रही है जिस जमात-ए-इस्लामी के साथ कांग्रेस ने अब गठबंधन किया है वो लव जिहाद से लेकर तमाम तरह की जिहादी गतिविधियों में शामिल हैबता दें की केरल में मुस्लिम जनसँख्या अब 30% पहुँच चुकी है वहीँ इसाई जनसँख्या भी 25% के आसपास पहुँच चुकी है, 20% के करीब वामपंथी जनसँख्या है वहीँ हिन्दू जनसँख्या 25% से भी कम रह गयी है