सीमा पर भ’यानक यु’द्ध: टैं’क, तो’पों और फा’इटर जे’ट से ह’मला, 500 से ज्यादा सै’निकों की मौ’त….

ट्रेडिंग

आर्मीनिया और अ’जरबैजा’न के बीच शुरू हुआ भी’षण यु’द्ध दूसरे दिन भी जारी है। दोनों देशों के बीच यह जं’ग विवादित क्षेत्र ना’गोर’नो-का’राबा’ख को लेकर हो रही है। दोनों देश एक-दूसरे पर टैं’कों, तो’पों और हे’लिकॉप्‍टर से घा’तक ह’मले कर रहे हैं।

मिली जानकारी के मुताबिक, इस जं’ग में अब तक 80 से ज्‍यादा लोगों की मौ’त हुई है और सैं’कड़ों लोग घा’यल हैं। तो वहीं जैसे-जैसे यह जं’ग तेज होती जा रही है, वैसे-वैसे रू’स और तु’र्की के बीच युद्ध का ख’तरा मं’ड’राने लगा है।

अ’जरबैजा’न के र’क्षा मं’त्रालय का है कि आ’र्मीनि’याई’ ब’लों ने सोमवार सुबह टारटार शहर पर गो’लाबा’री की। जबकि आ’र्मीनि’या के अधि’कारियों ने कहा कि ल’ड़ा’ई रा’तभर जा’री रही और अ’जरबै’जा’न ने सुबह घा’त’क ह’म’ले शुरू कर दिए। दोनों ही ओर से टैं’क, तो’पों, ड्रो’न और फा’इट’र जे’ट से ह’म’ले हो रहे हैं। अ’जरबैजा’न के र’क्षा मं’त्राल’य ने दा’वा किया है कि इस ल’ड़ाई में आ’र्मीनि’या के 550 से अधिक सै’निकों की मौ’त हुई है।

आ’र्मीनि’या के अधिकारियों ने इस दावे को खा’रिज कर दिया है। आ’र्मीनि’या ने यह दा’वा भी किया कि अज’रबैजा’न के चार हे’लिकॉप्टरों को ढे’र कर दिया है। इस इ’ला’के में सुबह ल’ड़ा’ई शुरू हुई, वह अ’जरबै’जान के त’हत आता है, ले’किन यहां पर 1994 से ही आ’र्मीनि’या के सम’र्थित ब’लों का क’ब्जा है। इस सं’कट के म’द्देनजर अ’जरबैजा’न के कुछ क्षेत्रों में मा’र्शल लॉ ल’गाया गया है तथा कुछ प्रमुख शहरों में क’र्फ्यू के आ’देश भी दिए गए हैं।