फिरोज अली को मुंबई से लखनऊ ला रही UP पुलिस की गाड़ी पलटी

ट्रेडिंग

Madhya Pradesh Guna: मध्य प्रदेश के गुना जिले के चंचौड़ा थाना क्षेत्र में पखरिया पुरा टोल के पास उत्तर प्रदेश पुलिस का वाहन रविवार सुबह को पलट गया। इस निजी वाहन से, यूपी पुलिस गैं-गस्टर अधिनियम के आ-रोपी फिरोज अली को मुंबई से गिरफ्तार कर लखनऊ ले जा रही थी। मामले में फिरोज की मौके पर ही मौ-त हो गई, जबकि एक सब-इंस्पेक्टर और एक सिपाही समेत चार लोग घा-यल हो गए।

घा-यलों को बियोरा अस्पताल में भर्ती कराया गया है। पुलिस के अनुसार, लखनऊ के ठाकुरद्वारा थाने में 2014 में 58 वर्षीय फ़िरोज़ उर्फ ​​शमी पुत्र मोहर्रम अली निवासी दरगाह शरीफ़ घांघरघर थाना कोतवाली ज़िला बहराइच के खिलाफ गैं-गस्टर एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया था। वह तब से फरार था।

सब-इंस्पेक्टर जगदीश प्रसाद पांडे, कॉन्स्टेबल संजीव सिंह और बहनोई अफजल पुत्र आ-रोपी मुन्ना खान, लखनऊ के निवासी हैं, उन्हें गिरफ्तार करने के लिए मुंबई गए थे। फिरोज मुंबई के नाला सोपारा इलाके में एक झुग्गी में रह रहा था।

मुंबई से फिरोज की गिरफ्तारी के बाद पुलिस टीम शनिवार को लखनऊ के लिए रवाना हुई। यह दुर्घटना रविवार सुबह करीब 6.30 बजे हुई थी। हादसे में फिरोज की मौ-त हो गई। अफजल खान का हाथ फ्रैक्चर हो गया है। पुलिसकर्मी संजीव, जगदीश प्रसाद और ड्राइवर सुलभ मिश्रा भी घा-यल हो गए।

जगदीश प्रसाद ने गुना के पुलिस अधिकारियों को बताया कि गली में एक गाय अचानक दिखाई दी। उसे बचाने के चक्कर में वाहन पलट गया। यह भी आशंका है कि झपकी आने के कारण ड्राइवर का एक्सी डेंट हुआ हो।