8 जून को दिशा ने की सुसाइड, 14 को फंदे से लटके मिले सुशांत, इस बीच खूब हुई महेश भट्ट और रिया के बीच बात

ट्रेडिंग

14 जून को सुशांत सिंह राजपूत बांद्रा के अपने घर में लटके मिले थे। 8 जून को उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान ने आत्महत्या की थी। इसी दिन सुशांत का घर उनकी गर्लफ्रेंड रिया चकवर्ती ने छोड़ा था। 8 से 13 जून के बीच महेश भट्ट और रिया चकवर्ती के बीच फोन पर कई बार बात हुई।

टाइम्स नाउ ने अपनी रिपोर्ट में यह दावा किया है। इसमें बताया गया है कि 8 से 13 जून के बीच दोनों के कॉल में अचानक इजाफा देखा गया। इस दरम्यान रिया ने 16 बार महेश के नंबर पर कॉल किया। ईडी सूत्रों के हवाले से रिया के कॉल डिटेल्स के आधार पर यह दावा किया गया है।

ईडी इस मामले में मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों की जॉंच कर रही है। रिया पर सुशांत के पैसों का हेरफेर करने का आरोप है। इस संबंध में जॉंच एजेंसी रिया और उनके भाई से लगातार पूछताछ कर रही है।

इस बीच सुशांत सिंह के शव को लेने आई एम्बुलेंस के एक अटेंडेंट ने खुलासा किया कि उनका शरीर पीला पड़ा हुआ था। अटेंडेंट के मुताबिक अगर कोई व्यक्ति फाँसी लगाकर आत्महत्या करता है, तो उसका शरीर पीला नहीं पड़ता है। लेकिन सुशांत सिंह का शरीर पीला पड़ा हुआ था। यह उनके लिए हैरान कर देने वाली बात थी। 

टाइम्स नाउ के संवाददाता अरुणिल साडेकर से फोन पर बात करते हुए, एम्बुलेंस अटेंडेंट ने कहा कि अगर कोई व्यक्ति खुद को लटका लेता है, तो शरीर पीला नहीं होगा, लेकिन सुशांत सिंह का शरीर पीला पड़ गया था। वहीं जब सुशांत की गर्दन पर निशान के बारे में पूछा गया, तो एम्बुलेंस अटेंडेंट ने कहा, “जब कोई खुद को लटकाएगा, तो सभी जगह निशान होगा। आज तक इस तरह की घटनाओं में तो हमने ऐसा ही देखा और सुना है।”

एम्बुलेंस अटेंडेंट ने कहा कि सुशांत सिंह की गर्दन के हिस्से में ही निशान था। उसके मुताबिक़ यह भी सामान्य नहीं कहा जा सकता है। इसके बाद उसने कहा कि सुशांत सिंह के पैर भी ज़रा सा मुड़े हुए थे। अगर एक इंसान ने खुद को फाँसी लगाई है तो उसके पैर कैसे मुड़ सकते हैं? हमने फाँसी लगाने वाले मामलों में ऐसा नहीं देखा है।    

पैर कुछ इस तरह मुड़े थे जैसे किसी चीज़ को किक करने के दौरान होते हैं। अटेंडेंट का यह भी कहना था कि ऐसे मामलों में मृतक के मुँह से सफ़ेद झाग भी आता है। लेकिन सुशांत सिंह के मामले में ऐसा कुछ देखने के लिए नहीं मिला था। यह बात भी हमारे लिए हैरान करने वाली थी।         

इस रिपोर्ट पर भारतीय जनता पार्टी के नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने कहा कि सुशांत सिंह राजपूत के मामले में एम्बुलेंस अटेंडेंट द्वारा दी गई जानकारी की अहम है। 

उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा है कि सीबीआई के लिए डॉ. आरसी कूपर म्यूनिसिपल हॉस्पिटल के उन 5 डॉक्टर्स से बात करना सार्थक होगा, जिन्होंने सुशांत सिंह राजपूत का पोस्टमार्टम किया था। जो एम्बुलेंस सुशांत सिंह का शव लेकर गई थी, उसके कर्मचारियों ने कहा है कि उनके पैर का निचला हिस्सा मुड़ा हुआ था (जैसे कि वह टूटा हुआ हो)। 

टाइम्स नाउ से बात करते हुए सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, “मैंने अपने हर संपर्क से पता लगाने की कोशिश की। क्या आरसी कूपर अस्पताल में हुए सुशांत सिंह के पोस्टमार्टम की तस्वीरें उपलब्ध हैं। ऐसा लगता है जैसे सभी इस बात से डरे हुए हैं। सभी के पास अपनी पटकथा तैयार थी।

गौरतलब है कि पूछताछ के दौरान ED को रिया की कमाई को लेकर कई अहम जानकारियाँ हाथ लगी हैं। वित्तीय वर्ष 2017-18, 2018-19 के ITR में रिया चक्रवर्ती की कमाई में अचानक इजाफा हो गया। ये आखिर कैसे हुआ? क्या था इनकम का सोर्स? इसके बारे फिलहाल कुछ भी पता नहीं चला है। दो साल में रिया के शेयर की कीमत में 8 लाख की बढ़ोतरी हुई। वहीं फिक्स्ड एसेट 96 हजार से बढ़कर 9 लाख हो गई।