अभी अभी: सचिन पायलट करने वाले हैं ऐसा बड़ा खुलासा, कांग्रेस में खलबली

ट्रेडिंग

जयपुर. राजस्थान सरकार के सियासी संकट में मंगलवार को हुई बड़ी उलटफेर के बाद पूर्व उप मुख्यमंत्री और प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट अब बुधवार सुबह 10 बजे अपनी बात रख सकते हैं। पायलट का मंगलवार शाम 5 बजे बयान जारी करने वाले थे लेकिन अब सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस स्थगित कर बुधवार को तय की है। इससे पहले अशोक गहलोत सरकार में बगवात करने पर सचिन पायलट को उपमुख्यमंत्री और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष के पद से बर्खास्त कर दिया गया।

कांग्रेस की ओर से उठाए गए इस कदम के तुरंत बाद उन्होंने अपने ट्विटर प्रोफाइल में बड़ा बदलाव किया। पायलट ने अपने ट्विटर अकाउंट के बायो से कांग्रेस हटा लिया है और अपने ट्विटर प्रोफाइल पर अब केवल टोंक विधायक मेंशन किया। इसके साथ उन्होंने आईटी, दूरसंचार और कॉर्पोरेट मामलों के पूर्व मंत्री, भारत सरकार भी लिखा है। ट्विटर पर पहले सचिन पायलट ने पहले डिप्टी सीएम राजस्थान और राजस्थान कांग्रेस प्रेसिडेंट लिखा था।

सचिन पायलट इससे पहले दोपहर 2:21 बजे लिखा सत्य परेशान हो सकता है, पराजित नहीं। इस ट्वीट को देखते ही देखते जहां हजारों की संख्या में लाइक मिले, वहीं यह ट्वीट भी चर्चा का विषय बन गया। इसके बाद इस ट्वीट का जवाब देने में राजस्थान कांग्रेस के प्रभारी अविनाश पांडेय ने पीछे नहीं रहें। उन्होंने सचिन पायलट को जवाब देते हुए लिखा है कि सत्यवचन @sachinpilot आपने भाजपा के साथ मिलकर सत्य को काफी परेशान किया, लेकिन पराजित नहीं कर पाए न आगे कर पाएंगे । सत्यमेव जयते ।

गुलाबचंद कटारिया ने कहा- दोनों में 36 का आंकड़ा

राजस्थान के नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि जो हुआ वो पहले से ही तय लग रहा था, सब जानते थे कि दोनों में 36 का आंकड़ा था. ये लोग हम पर आरोप लगा रहे थे, लेकिन हमने कहा था कि कांग्रेस डूबेगी तो अपने आप से ही. साथ ही उन्होंने कहा कि अगर गहलोत में दम है तो पहले विधानसभा में फ्लोर टेस्ट करवाएं. आज की तारीख में गहलोत सरकार अल्पमत में है. जबकि बहुमत साबित करने से पहले मंत्रिमंडल विस्तार करना गलत है