सोशल मीडिया पर अब्दुल लोगो ने रातों रात बनाई ब्राह्मणों की ID, अब शुरू हुआ योगी-मोदी के खिलाफ खेल

ट्रेडिंग

ठीक वही खेल शुरू किया गया जो की कांग्रेस ने राजस्थान में विधानसभा चुनाव से पहले शुरू किया था, 2 सालों में उत्तर प्रदेश में भी विधानसभा चुनाव है और कांग्रेस के साथ सपा ने मिलकर वही पुराना खेल शुरू कर दिया 
राजस्थान में आनंदपाल नाम के गैंगस्टर का एनकाउंटर हुआ था तब कांग्रेस ने राजपूतों को भड़काया था, चुनाव में कांग्रेस को फायदा भी हुआगैंगस्टर विकास दुबे को अब ब्राह्मणों का हीरो बताकर एक नए तरह का माहौल सोशल मीडिया पर बनाया जा रहा है, माहौल बनाया जा रहा है योगी-मोदी के खिलाफ और उनको ब्राह्मण विरोधी बताया जा रहा है कुछ ही दिनों पालघर में 2 ब्राह्मणों की हत्या कर दी गयी और इसके अलावा आये दिन कांग्रेस के नेता ब्राह्मणों को सुवर, मनुवादी, आतंकवादी बताते है तब किसी को आन्दोलन करने की नहीं सूझी पर गैंगस्टर विकास दुबे के बाद अब ब्राह्मण आन्दोलन शुरू हो चूका है, ये आन्दोलन सिर्फ सोशल मीडिया पर ही है और इसे अब्दुल लोगो द्वारा चलाया जा रहा है रातों रात अब्दुल और वामपंथी लोगो ने सोशल मीडिया पर तिवारी, शुक्ल, शर्मा, त्रिवेदी, चतुर्वेदी, दुबे, उपाध्याय इत्यादि नामो से प्रोफाइल बनाई है, फेसबुक, ट्विटर और कई और प्लेटफॉर्म्स पर ये प्रोफाइल बनाई गयी है 


उत्तर प्रदेश में ब्राह्मणों के जो सर नेम होते है, प्रोफाइल उन्ही नामो से बनाई गयी है, और इन एकाउंट्स से लगातार 1 ही बात अलग अलग पोस्ट्स, त्वीट्स के जरिये कही जा रही है की मोदी-योगी-बीजेपी ब्राह्मण विरोधी है, मैं परशुराम का बेटा हूँ आजीवन बीजेपी को वोट नहीं दूंगा, इत्यादि इत्यादि कुछ उदाहरण देखिये 


बड़े पैमाने पर अब्दुल लोग अब ब्राह्मण बन चुके है, पर इनसे भी कुछ गलतियाँ हो जाती है जो पकड़ में आ जाती है, ये अकाउंट को स्विच करना भूल जाते है, ऐसी गलतियाँ सामान्य है
ये सिर्फ कुछ उदाहरण है, इसी तरह बड़े पैमाने पर सन्देश सोशल मीडिया पर चलाये जा रहे है, अब्दुल लोग अब ब्राह्मण बनकर घूम रहे है
ये लोग विधानसभा चुनाव तक ब्राह्मण बनकर घूमेंगे, और आने वाले समय में वही होगा जो राजस्थान में हुआ था, वहां आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद राजपूतों को भड़काया गया था और इसका फायदा भी चुनाव के समय कांग्रेस को हुआ था